Saturday, April 23, 2016

तन्हाई में चुप चाप रहना अच्छा लगता है
ख़ामोशी से एक दर्द सहना अच्छा लगता है
वो जिनकी याद हमे हर कहीं तनहा कर जाती है
सामने उसके कुछ न कहना अच्छा लगता है ।

मिलकर उससे बिछड़ न जाएँ कहीं , डरते है
इसीलिए बस दूर ही रहना अच्छा लगता है
जी चाहे हर खुशियाँ लाकर देदूं उसे
उसके प्यार में सब कुछ करना अच्छा लगता है
उसका मिलना न मिलना . किस्मत की बात है
पर हर पल उसकी याद में रहना अच्छा लगता है ।।

।।आखिर।।